श्री अक्षय भक्त मंडल सेवा समिति इस कोरोना नामक महामारी के समय पर माँ दधिमथी श्री बालाजी दादाजी महाराज से प्राथना करती है की है प्रभु पूरे विश्व को इस कोरोना नामक संकट से बाहर निकालो ।

Latest Updates

महर्षि पिप्पलाद और शनि देव ( Maharishi Piplad and Shani Dev )

श्मशान में जब महर्षि दधीचि के मांसपिंड का दाह संस्कार हो रहा था तो उनकी पत्नी अपने पति का वियोग सहन नहीं कर पायीं और पास में ही स्थित विशाल पीपल वृक्ष के कोटर में 3 वर्ष के बालक को रख स्वयम् चिता में बैठकर सती हो गयीं। इस प्रकार महर्षि दधीचि और उनकी पत्नी …

जय जय जनक सुनन्दिनि (Jai Jai Janak Sunandini )

जय जय जनक सुनन्दिनि, हरि वनन्दिनि हे । दुष्ट निकन्दिनि मात, जय जय विष्णु प्रिये ॥Jai Jai Janak Sunandini, Hari Vnandini.He Dust Nikndini maat, Jai Jai Vishnu Priye. सकल मनोरथ दोहिनी, जग सोहिनी हे । पशुपति मोहिनी मात, जय जय विष्णु प्रिये ॥Sakal Manorath Dohini, Jug Sohini He. Pashupati Mohini Maat, Jai Jai Vishnu Priye. …